CDN Network क्या है और ये किसी भी Blog या Website के लिए क्यों जरुरी है(http to https)

Friends आज की इस Post में हम आपको CDN Network के बारे में विस्तार से बतायेंगे “CDN Network क्या है और ये किसी भी Blog या Website के लिए क्यों जरुरी है”

जब भी आप कोई भी Blog या Website बनाते है तो इसके लिए आपके Blog या Site की Speed आपके लिए बहुत मायने रखती है, इसीलिए आप अपनी Blog या Site की loading speed बड़ाने के लिए तरह तरह की तकनीक का use करते है उन्ही में से एक CDN भी है.

आप में से बहुत से लोग ने तो CDN Network का नाम सुना होगा लेकिन कई लोगो ने CDN Network का नाम अभी तक नही सुना होगा. और अगर आप भी CDN का नाम पहली bar सुन रहे है तो आप बिल्कुल सही post पर आये है आज हम आपको Detail से CDN network के बारे में बतायेंगे तो आइये शुरु करते हैं:

CDN Network क्या है

CDN की full form “Content Delivery Network” है. जिसका मुख्य काम किसी भी साईट की loading speed को बडाना है. किसी भी Blog या site के लिए सबसे ज्यादा जरुरी site की loading speed होती है.

इसका मतलब है की अगर कोई user अपने browser में आपके blog या website को देखना चाहता है तो आपका blog कितने समय में user के browser में दिखाई देगा, अगर आपके blog को users के browser में load होने के लिए बहुत समय लग रहा है तो इससे आपके blog में visitors के आने का chances बहुत ही कम हो जाता हैं.

Content Delivery Network कई servers का एक network होता है जो की internet पर available content को fast deliver करने में help करता है. CDN internet पर available HTML page, JavaScript files, images और video सहित बहुत सारे content को user तक fastly पहुँचाने में या तेजी से transfer करने में help करता है.

चलिए हम आपको आसान भाषा में समझाते है:

जब भी कोई visitors आपके blog या site में visit करते हैं तो आपके blog या site के web hosting server में उनको redirect कर दिया जाता है. आपका web hosting server central location में स्थित रहता है, तो जब भी visitors आपके site पर visit करेंगे तो user आपके site का contents उसी web hosting server से ही access करेंगे.

किसी भी website या blog का एक ही web hosting server होता है. तो आपके site के सभी visitors उस एक ही server से आपके website को access कर पाएंगे. इसलिए अगर आपके site में ज्यादा visitors होंगे तो आपका server overload हो जायेगा और आपके site के loading speed को slow कर देगा या फिर आपका server crash भी हो सकता है.

इन्ही सारी परेशानी से बचने के लिए CDN network का use किया जाता है क्योकि CDN network कई servers का network है जिसके servers पूरी दुनिया में फैले हुए हैं. इसलिए अगर आप CDN का इस्तेमाल अपने blog या site के लिए करते हैं तो आपके सारे contents CDN के सभी servers में store हो कर रहते हैं.

तो जब भी users आपके site में visit करेंगे, CDN का technology user के location के नजदीकी server के साथ जोड़ देता है जिससे की user आपके site को जल्दी और आसानी से access कर पाते हैं.

Note- ” CDN Network आपकी website या blog के content को host नही करता है लेकिन CDN Network आपकी website या blog के content को Crash करके आपके website के visitor को content deliver करता है.”

i.e CDN network do not host your website data and database (content) but is responsible for deliver your website content to your website visitor by crashing your websites data in its servers which are located on almost every part of the world.

Without CDN Network

With CDN Network

Example of CDN Network

वैसे तो बहुत सी hosting company जब आप hosting खरीदते है तो आपको free में CDN प्रदान करती हैं. अगर आपके hosting plan में CDN free नहीं है तो आपको इसे खरीदना पड़ सकता है. Top 5 CDN provide करने वाली Company, जिनका CDN बहुत अच्छा है:

1. Cloud flare– अगर आप Cloud flare का CDN चुनते हैं तो इनके पास free एवं Paid दोनों विकल्प उपलब्ध हैं. अन्य CDN प्रदाताओं से आपको केवल Paid CDN का विकल्प ही मिलेग
2. Fastly
3. Stack Path (Max CDN)
4. Amazon Cloud Front
5. Microsoft Azure CDN

CDN किसको use करना चाहिए

  1. कोई भी Blogger जो अपनी Website और blog की Security, speed और Performance को बेहतर करना चाहते हैं, वो CDN का use कर सकते हैं.
  2. जो अपनी website को fast करना चाहते है.
  3. website को secure करना चाहते है.
  4. जो अपनी website की performance बेहतर करना चाहते है.
  5. website के unwanted code(CSS, HTML, JavaScript) को reduce (minify) करना चाहते हैं.
  6. जो अपनी website में denial of services (DDoS attack) से बचाना चाहते हैं.
  7. Website का up time 100% रखना चाहते है.जो अपनी website के Hosting Server के load को reduce करना चाहते है.
  8. जो अपनी website के Hosting में खर्च होने वाले पैसे को बचाना चाहते हैं.

CDN किसको use नहीँ करना चाहिए

CDN उन Bloggers को use नही करना चाहिए. जिनकी Website Dynamic होती है यानि की जिनकी website में हर एक Input का Output अलग अलग होता हैं.

Benefits(फायदे) of CDN

1) Speed

इसको use करने का सबसे बड़ा फायदा website की speed को बडाना है. जिससे ज्यादा से ज्यादा visitors आपकी site में बने रहेंगे.

2) Google ranking

क्या आप जानते है की अगर आपके Page का loading time कम होगा तो इससे आपकी website की google ranking भी अच्छी होगी. इसके अलावा, CDN bounce rate कम करने में भी help करेगा.

3) Traffic handle

CDN, ज्यादा traffic को भी handle करता है. जब भी आपके blog posts viral हो जाते हैं, आपके server पर huge traffic आता है और इसके कारण कई बार आपकी site “Internal server error” “Database error” जैसे error देने लगती है, एक अच्छे content delivery network service के साथ आप ऐसे down time को आसानी से minimize कर सकते हैं और आपकी site ज्यादा traffic handle कर सकती है.

How to Convert Your Website http to https (SSL) using CDN Network

सबसे पहले हम आपको बतायेंगे की SSL क्या होता है-

आपने बहुत सी website देखी होंगीं जहा not Secure करके लिखा हुआ होता है. जैसे आप नीचे दी गयी Image में देख सकते है-

SSL की full form Secure Sockets Layer होती है जो एक Security protocol होता है जिसको हम Short में SSL कहते है. जो Server और Web browse के बीच में एक Encrypted link स्थापित करता है ये लिंक सुनिश्चित करता है कि जो भी Data browser और server के बीच में Exchange किया जाता है वो सारा डाटा सुरक्षित रहे.

जिससे हम अपने Private data को बिना किसी जिझक के शेयर कर सकते है लेकिन इसके लिए SSL का Web server पर install होना जरुरी है क्यूंकि ये  Padlock और https protocol को Activate कर देता है जो हमारे लिए वेब सर्वर से ब्राउज़र तक एक Secure connection को प्रोवाइड करता है.

SSL certificate का use करने के बाद नीचे दी गयी image आप देख सकते हैं

How to Install SSL Certificate

सिर्फ 4 Steps का use करके free में ssl Certificate प्राप्त कर सकते हैं.

Step 1) Create a Account on Cloudflare website

  1. Open Cloudflare.com

    सबसे पहले आपको Cloudflare के official website के link में click करना है- Cloudflare.com
    इसके बाद आपको Signup में click करना है.
    Create a Account on Cloudflare website

  2. Create account

    Account create करने के लिए Email और Password Enter करके Create account में click कर देना है.

Step 2) Add Your Website to this Account

  1. Enter Your Website Name

    सबसे पहले आपको अपनी Website के domain(naked URL) को enter करना है,
    फिर add site में click कर देना है और फिर Next में click कर देना है.
    Add Your Website to this Account

  2. Select a Plan

    इसके बाद Free Plan select करना है.
    और फिर Confirm Plan में click करना है.
    add website cloudflare

  3. Continue

    अब आपको नीचे की और scroll करना है और फिर Continue में click करना है.
    इसके बाद website cloudflare में add हो जाएगी, और आपके DNS record को आपके hosting provider से fatch करेगी.

Step 3) Change Your Name Servers

अब आपको nameserver दिए जायेंगे आपको उन nameserver को अपने DNS Manager में जाकर Cloudflare के nameserver को add करना होगा.

  1. Login to Your domain provider website

    सबसे पहले आपको domain provider website में login करना होगा.

  2. DNS

    आप देखेंगे की जो आपने domain Cloudflare में add किया था वो आपको show होगा,
    इसके बाद आपको DNS में click करना है.
    DNS

  3. Nameservers

    अब आपको नीचे की और scroll करना है और फिर Nameservers में change में click करना है.

  4. Nameservers type

    आपको अब Nameservers का type choose करना है जिसके लिए पहले आपको dropdown में click करना है और फिर Custom select कर लेना है.
    Nameservers name type choose करने के बाद आपको Nameservers के नाम enter करने हैं. यहाँ आपको वो नाम enter करने है जो आपको Cloudflare में account create करने के बाद दिए गये थे. इसके बाद आपको save में click कर देना है.
    अब आपके nameserver के name change हो जायेंगे.
    Note- nameserver change होने की process में maximum 24 से 48 घंटे का समय लग सकता है.
    Change Your Name Servers

Step 4) Enable SSL in Cloudflare

  1. Open Cloudflare

    आपको फिर से Cloudflare में जाना है, और फिर Crypto में click करना है.
    SSL-Enable--in-Cloudflare

  2. Always Use https

    अब आपको नीचे की और scroll करना है और फिर Always Use https को on कर देना है.
    जैसे ही आप इसे turn on करेंगे आपकी website secure हो जाएगी.
    Use-https-Always

Conclusion

आशा करती हु आज की Post CDN Network क्या है और ये किसी भी Blog या Website के लिए क्यों जरुरी है(http to https) आपको समझ में आयी होगी. दोस्तो, आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इसे अपने Friends के साथ जरुर share करें.

अगर आपको कोई सवाल या सुझाव है, तो हमें Comment करके जरुर बतायें. इसी तरह WordPress से related नई नई जानकारी जानने और समझने के लिए हमारे ब्लॉग के नये नये post को पढते रहिये और हमारे Facebook page, और YouTube Channel से जुड़े रहिये.

इन Post को भी जरुर पढ़ें

make Window 10 Bootable Pendrive?

How many devices are connected to my Hotspot

How to Delete Gmail/Google Account in Android

OTT Platform क्या है , यह कैसे काम करता है

How to Disable Automatic Updates on Windows 10

How to delete Quora account permanently

What is Computer and how it works

What is RAM (Random access memory) and their types in details

UPS (Uninterruptible Power Supply) और कंप्यूटर में इसका क्या महत्व है

एक Computer से दुसरे कंप्यूटर को Operate कैसे करें ? | Remotely Access PC From Another PC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here